excel tutorial:MS Excel क्या है

MS  Excel

excel tutorial:MS Excel एम एस आफिस का एक भाग है जिसे  spread sheet package के नाम से जाना जाता है जिसमें  data को  rows और columns में लिखा जाता है और उसके बाद उस पर किसी भी तरह की calculation कर सकते हैं। जैसे कि  mathematical statistical और  financial  इत्यादि।  इसमें data का विश्लेषण कर सकतंे है और उसकी report बना सकते है। इसमें data  का graph  के रूप में प्रदशित कर सकते है।

कैसे एक्सेल start करे
excel tutorial:Starting MsExcel

start->all programs->msoffice->excel पर क्लिक करने से  excel  की विन्डो खुल जाती है। जो नीचे दी गयी है।

excel tutorial
Work Book :- (वर्क बुक)  यह  Excel  का एक document  होता है इसके अन्दर 255  work sheet होती है  By Default  इसमें तीन sheet  दिखायी देती है।
Spreat sheet (स्प्रेटशीट):-   यह Excel document  के पंेज होते है इसको worksheet भी कहां जाता है यह grid of cells or grid of rows & columns होता है।  इसके अन्दर 65 536 rows और 256 columns  होते है।  जहां पर rows और columns एक दूसरे को  intercept करते है वहां पर एक  rectagle area बनता है जिसे Cell  कहतें है।  Cell excel document का सबसे छोटा एवं महत्वपूर्ण unit है।  जिसमें data  या information store की जाती है और उस पर किसी भी तरह की गणना कर सकते है हर  cell का अपना एक विशिष्ट address या reference no. होता है।  जो columns & rows को sequence में लिखने से प्राप्त होता है।

Cell Reference(सेल रिफेन्स ) :-  हर  cell का अपना एक unique address होता है। जिसके माध्यम से cell  की value  को  access
किया जाता है। यह 4 प्रकार का होता है।

(1) Relative Reference
(2) Absolute Reference
(3) Relative & Absolute Reference
(4) Absolute & Relative Reference

1. Relative Reference(रिलेटिव रिफ्रेन्स ):-यह  Reference column & row  को  sequence में लिखने से प्राप्त  होता है। इसमंें एक  cell  के reference  में दूसरी cell का  reference पहली cell के अनुसार बदल जाता है। इसका प्रयोग करने से गणनाए करने में आसानी एवं जल्दी हो जाती है। यह cell Reference इस प्रकार लिखा जाता है। जैसे :- a2, b2 & c3 इत्यदि
2. Absolute Reference (आब्सोल्यूट रिफ्रेन्स ):- इसमें reference  को doller  के साथ में लिया जाता है। इसमें एक cell का Reference  दूसरे cell  के  Reference में बदलता नहीं है। जैसेः- $a$2 ,$b$2 और  $c$2  इत्यादि

(3) Relative & Absolute Reference(रिलेटिव और अबसोल्युट) :-इसमें  column को रिलेटिव और  Row को  absolute कर दिया जाता है। जिसमें की column दूसरी  cell के Reference  में बदल जाता है। परन्तु row नहीं बदलती है। जैसेः- a$2 & c$3. etc.
4. Ablolute & Relative Reference (अबसोल्युट और रिलेटिव रिफं्रेस):- इसमें column को absolute & Row को  Relative  लिखा जाता है। जिसमें की column fix हो जाता है। और Row बदलती है। जैसेः- $A2, $B2, और $C2  इत्यादि।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *